गुरु पूर्णिमा 16 जुलाई को चंद्रग्रहण

गुरु पूर्णिमा 16 जुलाई को चंद्रग्रहण पड़ रहा है. मंगलवार के दिन चंद्रग्रहण का कई राशियों पर प्रभाव पड़ेगा। इस दौरान लोग कुछ सरल उपायों को करके लाभ प्राप्त कर सकते हैं। अहम बात यह है कि लगातार दूसरे साल गुरु पूर्णिमा के दिन चंद्रग्रहण लग रहा है। पिछले साल 27 जुलाई को 3 घंटे 51 मिनट के लिए यह ग्रहण लगा था। इस बार इसकी अवधि 2 घंटे 59 मिनट है।

चंद्र ग्रहण पूरे भारत में रात 1 बजकर 31 मिनट से दिखेगा। यह 4 बजकर 30 मिनट पर खत्म होगा। गुरु पूर्णिमा और चंद्रग्रहण एक साथ होने की वजह से गुरु पूजा भी सूतक लगने से पहले कर लेना ठीक होगा। सूतक दिन में 4 बजकर 31 मिनट पर शुरू हो जाएगा।

खगोल विज्ञान के अनुसार चंद्रमा, पृथ्वी और सूर्य जब एक सीध में होते हैं तब ग्रहण पड़ता है। अगर हम बात करें चंद्र ग्रहण की तो सूर्य और चंद्रमा के बीच पृथ्वी आ जाती है और चंद्रमा पर पृथ्वी की प्रच्छाया पड़ती है तो इस स्थिति को चंद्र ग्रहण कहते हैं।

पूर्णिमा की रात को चंद्रमा पूर्णत: गोलाकार दिखाई पड़ना चाहिए, किन्तु कभी-कभी अपवादस्वरूप चंद्रमा के पूर्ण बिम्ब पर धनुष या हसिया के आकार की काली परछाई दिखाई देने लगती है। कभी-कभी यह छाया चांद को पूर्ण रूप से ढक लेती है। पहली स्थिति को चन्द्र अंश ग्रहण या खंड-ग्रहण कहते हैं। दूसरी स्थिति को चंद्र पूर्ण ग्रहण या खग्रास कहते हैं। चंद्रमा सूर्य से प्रकाश प्राप्त करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *