कमीशनखोरो को छत्तीसगढ़ के किसानों ने सत्ता से बेदखल कर दिया : कांग्रेस

भाजपा सरकार में होती थी धान बेचने वाले किसानों से प्रति बोरा रमन टैक्स की वसूली-कांग्रेस


रायपुर। भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष पूनम चंद्राकर के बयान पर कांग्रेस ने प्रतिक्रिया दी प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि पूर्व की रमन सरकार के दौरान कमीशनखोरी भाजपा का मुख्य एजेंडा था। मंडियो में धान बेचने वालो किसानों से प्रति बोरा रमन टैक्स वसूला जाता था। 15 साल तक कमीशनखोरी करने वाली भाजपा को राज्य की जनता ने सत्ता से बेदखल कर दिया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की नेतृत्व वाली सरकार किसानों के प्रति संवेदनशील एवं जिम्मेदार है किसानों को धान बेचने में किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो इसका पूरा ख्याल रखा जा रहा। धान बेचने केे बाद किसानों के खाते में निर्धारित समय में रकम ट्रांसफर कर दिया जा रहा है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा के भात पर बात कार्यक्रम को किसानों ने तवज्जो नहीं दिया।भात पर बात कार्यक्रम के माध्यम से मुख्यमंत्री भुपेश बघेल सरकार के खिलाफ किसानों के बीच भाजपा की भ्रम फैलाने की योजना विफल हो गई।धान खरीदी के संदर्भ में भाजपा झूठी बेबुनियाद एवं तथ्यहीन मनगढ़ंत आरोप लगाकर किसानों के बीच राजनीति करने का प्रयास कर रही है। किसानों से अभी तक लगभग 44 लाख मैट्रिक टन से अधिक धान की खरीदी जा चुके हैं। 19 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान कस्टम मिलिंग के लिए दिया जा चुका है ऐसे में भाजपा के द्वारा लगाए जाए आरोप का पर्दाफाश हो गया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के द्वारा इस वर्ष 85 लाख मीट्रिक टन से ऊपर धान खरीदने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसे तय समय सीमा में पूरा कर लिया जाएगा मंत्रिमंडल उपसमिति ने किसानों के हित में अनेक जनकल्याणकारी फैसले लिए हैं।माँगनुसार अनुसार तीन टोकन के बाद चौथा टोकन दिया जाएगा धान खरीदी के लिए सीमा की बाध्यता खत्म कर दी गई है किसानों को धान बेचने में असुविधा ना हो इसलिए और नए धान संग्रहण केंद्रों की स्थापना की जा रही है किसानों को धान का 2500 दाम देने अंतर की राशि देने अन्य राज्यों की योजना का परीक्षण किया जा रहा है किसानों को धान का 2500 रुपये दाम दिया जायेगा। किसानों के हित में अनेक हितकारी फैसले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार ने लिया है जिसका लाभ छत्तीसगढ़ के किसानों को मिलेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *