मॉस्को आतंकी हमले से जुड़े ताजा अपडेट

रूस के क्रॉकस सिटी में हुई गोलीबारी में 130 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। मृतकों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है।  आतंकियों ने मासूम लोगों को निशाना बनाते हुए हॉल में धमाका किया और जमकर गोलियां बरसाई थीं। अब तक इस घटना पर 11 संदिग्ध गिरफ्तार किए जा चुके हैं। इनमें से चार वह बंदूकधारी हैं, जो हमले में सीधे तौर पर शामिल रहे। वहीं, हमले की जिम्मेदारी आईएस-खोरासान ने ली है। इस बीच, यूक्रेन के अधिकारियों ने सफाई दी है कि वह इस हमले के पीछे नहीं हैं। हालांकि, रूसी अधिकारियों का दावा है कि हमलावरों को यूक्रेन से मदद मिली थी।

रूसी अधिकारियों ने पहले कहा था कि गोलीबारी में 143 लोग मारे गए हैं। हालांकि, बाद में उन्होंने बताया कि 24 घंटे से अधिक समय की तलाश में 133 शव बरामद किए गए हैं। 107 लोग अस्पतालों में जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं।

आइए जानते हैं आंतकी हमले से लेकर आतंकियों की गिरफ्तारी तक क्या कुछ हुआ-

  • राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 24 मार्च के दिन राष्ट्रीय शोक का एलान किया। पुतिन ने कहा कि हमलावरों ने भागने की कोशिश की; वे यूक्रेन की सीमा की ओर बढ़ रहे थे। जांच अधिकारी हमलावरों की पहचान करने का हर संभव प्रयास करेंगे। ये अपराधी विशेष रूप से हमारे लोगों को मारने के लिए गए थे। पुतिन ने अन्य देशों से सहयोग की उम्मीद भी जताई। 
     
  • रूस की एफएसबी सुरक्षा एजेंसी के मुताबिक, हमलावरों के यूक्रेन में संपर्क थे और वह बॉर्डर की तरफ भाग रहे थे। हालांकि, रूस-यूक्रेन बॉर्डर तक पहुंचने से पहले ही उन्हें ब्रायन्स्क प्रांत में पकड़ लिया गया।
     
  • वहीं, यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने साफ मना कर दिया है कि उनके देश का इस घटना से कोई लेना-देना नहीं है।यूक्रेनी सैन्य खुफिया प्रवक्ता एंड्री युसोव ने बताया कि उनका देश इस आतंकवादी हमले में शामिल नहीं है। उन्होंने कहा कि यूक्रेन रूसी आक्रमण के खिलाफ खुद का बचाव कर रहा है और यह कब्जा करने वालों की सेना के खिलाफ लड़ रहा है, न कि नागरिकों के खिलाफ।
     
  • पुतिन ने कहा कि हमले के दोषियों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि जांच के बाद हत्याकांड के दोषियों को सख्त सजा दिलाई जाएगी। उन्होंने कहा, ‘हम उन सभी की पहचान करेंगे और उन्हें सजा देंगे जो रूस के खिलाफ और हमारे लोगों के खिलाफ इस अत्याचार की योजना बनाने वाले आतंकवादियों के पीछे हैं।’
     
  • इस बीच, अमेरिका के व्हाइट हाउस ने दावा किया कि अमेरिकी सरकार ने मॉस्को में एक योजनाबद्ध हमले के बारे में रूस के साथ जानकारी साझा की थी। अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता एड्रिएन वाटसन ने शनिवार को कहा कि इस हमले में यूक्रेन का कोई हाथ नहीं है। 
     
  • कॉन्सर्ट हॉल में कुछ लोगों की मौत बंदूक की गोली लगने से हुई, जबकि अन्य की आग में जलने से मौत हो गई क्योंकि बंदूकधारियों ने हॉल में आग लगाने के लिए पेट्रोल का इस्तेमाल किया था। 28 शव शौचालय से और 14 शव सीढ़ी से बरामद किए गए।
     
  • रूसी सांसद अलेक्जेंडर खिनशेटिन ने कहा कि हमलावरों को पुलिस ने शुक्रवार रात मॉस्को से लगभग 340 किलोमीटर (210 मील) दक्षिण-पश्चिम में ब्रायन्स्क क्षेत्र में देखा था। उन्होंने कहा कि उन्हें रुकने का आदेश दिया, लेकिन वह नहीं रुके, जिसके बाद एक कार का पीछा किया गया। कार में एक पिस्तौल, एक असॉल्ट राइफल के लिए एक पत्रिका और ताजिकिस्तान के पासपोर्ट पाए गए।
     
  • एक वीडियो सामने आया है, जिसमें संदिग्धों में से एक युवा, दाढ़ी वाले व्यक्ति से सड़क के किनारे पूछताछ करते हुए देखा गया। संदिग्ध ने कहा कि वह चार मार्च को तुर्की से आया था और उसे टेलीग्राम के माध्यम से अज्ञात लोगों से पैसे के बदले हमले को अंजाम देने का निर्देश मिले थे।
     
  • इस्लामिक स्टेट आईएस ने कहा कि सैकड़ों लोगों की हत्या करने और भारी तबाही मचाने के बाद उसके लड़ाके सुरक्षित अपने ठिकानों पर लौट आए हैं। अमेरिकी अधिकारियों ने समाचार संस्थानों को बताया है कि जो बाइडन प्रशासन के पास आईएस के जिम्मेदारी के दावे पर संदेह होने की कोई वजह नहीं है। 
     
  • व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कैरिन जीन-पियरे ने शनिवार को एक बयान में कहा, ‘अमेरिका मॉस्को में हुए जघन्य आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करता है। इस्लामिक स्टेट आतंकवादी है, जिसे हर जगह से खत्म किया जाना चाहिए।’
     
  • आईएस से संबद्ध समाचार एजेंसी ने शनिवार को एक ग्राफिक वीडियो जारी किया, जिसमें शुक्रवार को मॉस्को के एक कॉन्सर्ट हॉल में हुए हमले को दिखाया गया है, जिसे हमलावरों में से एक ने रिकॉर्ड किया है। करीब 90 सेकंड के इस वीडियो में चार हमलावरों को दिखाया गया है, जिनके चेहरे धुंधले हैं और क्रोकस सिटी हॉल परिसर में उनकी आवाजें गूंज रही हैं। 
     
  • वीडियो में एक हमलावर दूसरे को संकेत देते हुए दिखाई दिया। इसके बाद हमलावर एक दरवाजे के पास जाता है, जहां लोग छिपे हुए हैं और उन पर गोलियां चलाता है। वहीं, हॉल के फर्श पर शव और खून देखा जा सकता है। वहीं कुछ दूरी पर आग लगी दिख रही है। वीडियो में हमलावरों में से एक को अपनी पीठ पर लेटे एक व्यक्ति का गला काटते हुए भी दिखाया है। 
top