Breaking News

नीट में 720 में से 720 अंक : पहली बार रेकॉर्ड 67 स्टूडेंट ने हासिल किया परफेक्ट स्कोर

Spread the love

नीट के इतिहास में पहली बार देशभर से 67 स्टूडेंट्स ने 720 में से 720 अंक हासिल कर परफेक्ट स्कोर प्राप्त किया है। सभी स्टूडेंट्स को ऑल इंडिया-1 रैंक जारी की गई है। यह ऐतिहासिक रेकॉर्ड कायम हुआ है। सूची में 67 में से 11 विद्यार्थी राजस्थान से हैं। सूची में 16% योगदान राजस्थान का रहा। इस परीक्षा में कोटा कोचिंग का भी अच्छा योगदान रहा।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की सबसे बड़ी मेडिकल प्रवेश परीक्षा नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस एग्जाम (नीट यूजी-2024) का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया। नीट-यूजी का परीक्षा परिणाम ऐतिहासिक रहा।नीट के इतिहास में पहली बार देशभर से 67 स्टूडेंट्स ने 720 में से 720 अंक हासिल कर परफेक्ट स्कोर प्राप्त किया है। सभी स्टूडेंट्स को ऑल इंडिया-1 रैंक जारी की गई है। यह ऐतिहासिक रेकॉर्ड कायम हुआ है। सूची में 67 में से 11 विद्यार्थी राजस्थान से हैं। सूची में 16% योगदान राजस्थान का रहा। इस परीक्षा में कोटा कोचिंग का भी अच्छा योगदान रहा।

नीट की परीक्षा 5 मई को आयोजित की गई थी। इस परीक्षा में 23 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी शामिल हुए थे। जिसमें 10 लाख छात्र और 13 लाख छात्राएं शामिल हुई थी। एजुकेशन एक्सपर्ट देव शर्मा ने बताया कि राज्यवार नीट यूजी प्रवेश परीक्षा के सफलता पैटर्न में कोई परिवर्तन नहीं आया है। वर्ष 2024 में भी वर्ष 2023 का इतिहास ही दोहराया गया है। वर्ष 2024 में भी राजस्थान राज्य तीसरे स्थान पर है। प्रथम स्थान पर उत्तर प्रदेश, द्वितीय स्थान पर महाराष्ट्र है। उत्तर प्रदेश से 1.65 लाख विद्यार्थियों ने, महाराष्ट्र से 1.42 लाख विद्यार्थियों ने, राजस्थान से 1.21 लाख विद्यार्थियों ने क्वालीफाई किया है।

राजस्थान से 4 फीमेल कैंडिडेट ने प्राप्त किया परफेक्ट स्कोर
राजस्थान से 4 फीमेल कैंडीडेट्स ने परफेक्ट स्कोर 720 में से 720 अंक प्राप्त किए। राजस्थान से प्राचिता, ईशा कोठारी, ईरम काजी, जाहृवी ने परफेक्ट स्कोर हासिल किया। राजस्थान से 7 मेल कैंडीडेट्स सौरव, आदर्श सिंह, शशांक, श्याम, ध्रुव गर्ग, देवेश जोशी तथा समित कुमार ने परफेक्ट स्कोर प्राप्त किए।

बीते 4 साल में केवल 7 कैंडिडेट पहुंचे परफेक्ट स्कोर पर
नीट यूजी के इतिहास में यह एक रिकॉर्ड बना है। जिसमें इतनी बड़ी संख्या में कैंडिडेट परफेक्ट स्कोर बना पाए हैं। जबकि बीते 4 साल में से 3 बार (2020, 2021 और 2023) में परफेक्ट स्कोर बना है। साल 2022 में परफेक्ट स्कोर नहीं बना था। बीते चार सालों में महज 7 कैंडिडेट अब तक परफेक्ट स्कोर बना पाए हैं। जबकि इस बार यह संख्या काफी ज्यादा गुना बढ़ गई है।

पहली बार कोटा ने बनाया था रिकॉर्ड
नीट यूजी 2020 में परफेक्ट स्कोर 720 में से 720 अंक लाने का रिकॉर्ड बना था। कोटा से कोचिंग कर रहे उड़ीसा निवासी शोएब आफताब और दिल्ली में पढ़ी आकांक्षा सिंह ने यह रिकॉर्ड बनाया था। यह नीट यूजी परीक्षा के इतिहास में पहली बार हुआ था कि कोई कैंडिडेट पूरे में से पूरे अंक लाया था। दो स्टूडेंट के समान अंक लाने पर टाई ब्रेकिंग क्राइटेरिया लागू किया गया था। जिसमें शोयब आफताब की उम्र ज्यादा होने के चलते ऑल इंडिया रैंक वन मिली थी।

Janmat News

Writer & Blogger

Related Posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2024 Created with VnyGuru IT Solution