रूर्बन मिशन : पी.एफ.एम.एस. और स्थानिक नियोजन पर अधिकारियों को प्रशिक्षण

Last Updated on

 एस.आई.आर.डी. में समीक्षा बैठक-सह-कार्यशाला सम्पन्न
रायपुर. 16 जनवरी 2020प्रदेश में रूर्बन मिशन के कार्यों में तेजी लाने पब्लिक फाइनेंसियल मैनेजमेंट सिस्टम (PFMS) और स्थानिक नियोजन के लिए अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया गया। भारत सरकार एवं राज्य शासन के विशेषज्ञों ने निमोरा के ठाकुर प्यारेलाल पंचायत एवं ग्रामीण विकास संस्थान (SIRD) में आयोजित दो दिवसीय समीक्षा बैठक-सह-कार्यशाला में यह प्रशिक्षण दिया। केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय के राष्ट्रीय परियोजना प्रबंधन इकाई के जोनल परियोजना प्रबंधक श्री योगेश सिंह, क्षेत्रीय योजना प्रबंधक श्रीमती विहाग गुरू, राज्य शासन के नगर एवं ग्राम निवेश विभाग के सहायक संचालक श्री गणेश राम तुरकाने, श्री यशवंत सोनी तथा ‘प्रदान’ संस्था के श्री साहब हालदार ने अधिकारियों को पी.एफ.एम.एस. रूर्बनसॉफ्ट पोर्टल के एकीकरण व स्थानिक नियोजन पर विस्तार से जानकारी दी। कार्यशाला में रूर्बन के लिए चयनित 16 जिलों के जिला पंचायत के लेखाधिकारी, रूर्बन विशेषज्ञ और डाटा एन्ट्री ऑपरेटर-सह-लेखापाल शामिल हुए।

रूर्बन मिशन के राज्य परियोजना संचालक श्री अभिजीत सिंह ने कार्यशाला में जिला स्तर पर स्थानिक नियोजन संबंधी लंबित कार्यवाही को अतिशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी जिलों में पी.एफ.एम.एस. को सक्रिय करने कहा। श्री सिंह ने बैंक खातों, अभिसरण मद के लेखों और ऑडिट की समीक्षा कर बेहतर लेखा संधारण के निर्देश दिए। कार्यशाला में विशेषज्ञों ने एफ.टी.ओ. के माध्यम से भुगतान विधि के बारे में विस्तृत जानकारी दी। प्रशिक्षु अधिकारियों ने प्रशिक्षण स्थल पर ही एफ.टी.ओ. जारी कर इसका व्यवहारिक अभ्यास किया। वित्त संबंधी नियमावली, लेखा पुस्तक संधारण और सी.जी.एफ. मद की राशि के राज्य नोडल खाते में अंतरण के संबंध में भी बताया गया।

कार्यशाला में सीमांकन अधिसूचना, वर्तमान भूमि उपयोग, स्थानिक योजना, संरचना निर्माण योजना, मास्टर प्लान निर्माण तथा रूर्बन परियोजनाओं के अंतर्गत प्रस्तावित कार्यों के जी.आई.एस. आधारित लेयर तैयार करने की प्रक्रिया के बारे में भी जानकारी दी गई। कार्यशाला में रूर्बन मिशन के प्रशासनिक अधिकारी श्री शत्रुहन प्रसाद वर्मा, राज्य कार्यक्रम प्रबंधक (वित्त) श्री प्रकाश सेहता, परियोजना प्रबंधक श्री राजीव त्रिपाठी, वित्त अधिकारी श्री अनवर खान और यंग प्रोफेशनल श्री आशीष रघुवंशी सहित रूर्बन मिशन वाले 16 जिलों बिलासपुर, रायगढ़, कोण्डागांव, जशपुर, रायपुर, बलरामपुर-रामानुजगंज, धमतरी, कबीरधाम, बस्तर, राजनांदगांव, कांकेर, कोरबा, कोरिया, जांजगीर-चांपा, महासमुन्द एवं सरगुजा के अधिकारी मौजूद थे।

रूर्बन मिशन में लगातार अच्छा काम

श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन के क्रियान्वयन में छत्तीसगढ़ देश के अग्रणी राज्यों में शामिल है। हाल ही में दिसम्बर-2019 में केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा रूर्बन में उत्कृष्ट कार्य निष्पादन (Best Performing State) के लिए छत्तीसगढ़ को प्रथम पुरस्कार मिला है। ’’पहला एफ.टी.ओ. जारी करने वाले क्लस्टर की श्रेणी’’ में कांकेर जिले के बड़े कापसी क्लस्टर को भी प्रथम पुरस्कार से नवाजा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *