स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री को कोविड-19 से निपटने प्रदेश की जरूरतों की दी जानकारी

Last Updated on

रायपुर. स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री श्री अश्वनी कुमार चौबे से फोन पर चर्चा कर कोविड-19 के नियंत्रण के लिए प्रदेश की जरूरतों की जानकारी दी। उन्होंने श्री चौबे को बताया कि छत्तीसगढ़ द्वारा स्वास्थ्य मंत्रालय से 14 हजार पी.पी.ई. किट की मांग की गई है जिनमें से अब तक दो हजार किट की आपूर्ति की गई है। उन्होंने प्रदेश के लिए पर्याप्त संख्या में टेस्टिंग किट उपलब्ध कराने का अनुरोध किया। उन्होंने 50 हजार मास्क की भी जरूरत बताई।

श्री सिंहदेव ने केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री को प्रदेश में टेस्टिंग सेंटर की संख्या बढ़ाने के लिए अनुमति प्रदान करने का आग्रह किया। उन्होंने आई.सी.एम.आर. के द्वारा रैपिड टेस्टिंग किट के उपयोग के संबंध में दिशा-निर्देश जारी करने के बाद संदिग्धों की जांच की संख्या बढ़ाने छत्तीसगढ़ को इसे पर्याप्त संख्या में उपलब्ध कराने का भी अनुरोध किया। श्री सिंहदेव ने उन्हें बताया कि प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के कुल दस मामले आए हैं। इलाज के बाद स्वस्थ हुए चार मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। शेष छह मरीजों का उपचार चल रहा है।

स्वास्थ्य मंत्री ने आज संचालक, चिकित्सा शिक्षा डॉ. एस.एल. आदिले, अपर संचालक डॉ. निर्मल वर्मा और डॉ. भीमराव अंबेडकर स्मृति चिकित्सालय के अधीक्षक डॉ. विनीत जैन से चर्चा कर डॉ. भीमराव अंबेडकर चिकित्सालय में कोविड-19 के इलाज के लिए की जा रही व्यवस्था की जानकारी ली। यहां कोविड-19 के इलाज के लिए अभी 400 बिस्तर आरक्षित किए जा रहे हैं। उन्होंने यहां आईसीयू और आइसोलेशन वार्ड की भी जानकारी ली। श्री सिंहदेव ने यहां की नियमित ओपीडी और आईपीडी व्यवस्था के बारे में भी पूछा। उन्होंने इलाज की नियमित व्यवस्था को कम से कम प्रभावित करते हुए कोविड-19 के उपचार की सारी तैयारियां सुनिश्चित करने कहा।

श्री सिंहदेव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस से स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा कर प्रदेश भर में कोविड-19 का संक्रमण रोकने और इलाज की व्यवस्था की भी समीक्षा की। उन्होंने अस्पतालों में सभी व्यवस्थाएं पूर्ण करने के लिए आवश्यक सामग्रियों की आपूर्ति जल्द सुनिश्चित करने कहा। उन्होंने राज्य में कोरोना वायरस जांच की बढ़ी सुविधाओं के मद्देनजर सभी संदिग्धों के यथाशीघ्र सैंपल लेकर जांच कराने के भी निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *