सरकार प्रदेशभर के क्वारेंटाइन सेंटर्स की ऑनलाइन निगरानी के पुख्ता इंतजाम करे : भाजपा

Last Updated on

सुरक्षा और आवासीय सुविधाओं के मोहताज सेंटर्स के लिए केंद्र से मिली राशि पंचायतों को जारी ही नहीं की जा रही है : उसेंडी

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने प्रदेश के मुंगेली जिले के ग्राम पंचायत करही घ स्थित क्वारेंटाइन सेंटर में फिर एक श्रमिक की हुई मौत को लेकर प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली पर क्वारेंटाइन सेंटर्स की अव्यवस्थाओं पर निशाना साधा है। श्री उसेंडी ने मांग की है कि सरकार प्रदेशभर के क्वारेंटाइन सेंटर्स की ऑनलाइन निगरानी के पुख्ता इंतजाम करे।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री उसेंडी ने कहा कि भाजपा शुरू से प्रदेश के क्वारेंटाइन सेंटर्स की बदइंतजामी को लेकर प्रदेश सरकार का ध्यान खींच रही है लेकिन रोज बढ़ रहे कोरोना मामलों के बावजूद अपने सियासी ड्रामों में मशगूल प्रदेश सरकार इन सेंटर्स की अव्यवस्थाओं की घातक अनदेखी कर रही है। ये सेंटर्स सुरक्षा और आवासीय सुविधाओं के मोहताज हैं और प्रदेश सरकार इन सेंटर्स के लिए केंद्र सरकार से आपदा मद के लिए मिली राशि पंचायतों को जारी ही नहीं कर रही है। श्री उसेंडी ने कहा कि क्वारेंटाइन सेंटर्स सराय की तरह संचालित हो रहे हैं और कोई भी मिलने-जुलने के नाम पर कभी भी यहाँ बेरोकटोक पहुँच जाता है। यहाँ अब भी न तो बेरीकेट्स लगे हैं, न फेस कवर हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री उसेंडी ने मुंगेली जिले के करही घ क्वारेंटाइन सेंटर में कल फिर हुई पुणे से लौटे एक श्रमिक की मौत के मामले को गंभीर बताया है। अभी इस मृतक श्रमिक की टेस्ट रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। प्रदेश के क्वारेंटाइन सेंटर्स में मौत का यह सातवाँ मामला है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री उसेंडी ने कहा कि मौतों के आँकड़े यह साबित कर रहे हैं कि प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण के बढ़े के मामलों को संजीदगी से नहीं ले रही है। क्वरेंटाइन सेंटर के रामभरोसे चलने की इससे बड़ी मिसाल और क्या होगी कि प्रदेश की राजधानी के क्वारेंटाइन सेंटर से एक संदिग्ध ई-पास लेकर कोलकाता जाकर अपनी मित्र को लेकर वापस लौट आता है! श्री उसेंडी ने कहा कि इन मामलों को प्रदेश सरकार गंभीरता से ले और दोषियों पर सख्त कार्रवाई करे, अन्यथा प्रदेश में कोरोना संक्रमण के भयावह होने की आशंकाओं को सच होते देर नहीं लगेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *