डिजिटल इंडिया की सफलता गरीब और विकासशील देशों के लिए आशा की किरण: कॉमनवेल्थ महासचिव

Last Updated on

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किये गए डिजिटल इंडिया कार्यक्रम की सफलता को हाल ही में कॉमनवेल्थ की महासचिव पैट्रिशिया स्कॉटलैंड ने जम कर सराहा है। उन्होंने भारत द्वारा डिजिटल टेक्नोलॉजी के द्वारा आम लोगों के जीवन में लाये सुधारों को गरीब और विकासशील देशों के लिए आशा और उम्मीद की नई किरण बताया है।

एक
निजी चैनल को दिए एक इंटरव्यू में कॉमनवेल्थ की महासचिव पैट्रिशिया
स्कॉटलैंड ने बताया कि जिस प्रकार से भारत ने डिजिटल इंडिया के द्वारा जनता
की आकांक्षाओं को तकनीक के नए प्रयोगों के द्वारा नए अवसर सृजित कर और
डिजिटल सेवाओं को कम दाम में लोगों तक पहुंचा कर सफलता पाई है वो गरीब और
विकासशील देशों के लिए उम्मीद की नई किरण ले कर आया है। उन्होंने कहा, “यदि
आप देखें तो हमारे गरीब देश, हमारे छोटे देश और हमारे विकासशील देश विकसित
देशों की सफलता को आशा भरी नज़रों से देखते तो हैं लेकिन इन सफलताओं का
अपने देशों में अनुसरण करने से डरते हैं क्योंकि इनकी कीमत बहुत अधिक होती
है। लेकिन जब वे भारत की ओर देखते हैं और पाते हैं कि भारत ने इन सफलताओं
को कम कीमत वाली टेक्नोलॉजी के साथ हासिल किया है तो उन्हें बड़ी उम्मीद
दिखाई देती है। ये आशा का संचार करता है।”

उन्होंने
बताया कि जनवरी 2020 में अपने भारत दौरे के समय उन्होंने भारत सरकार के
मंत्रियों और टेक्नोलॉजी से जुड़े विशेषज्ञों से बात की थी। इस दौरान
उन्होंने पाया की भारत गरीब और कमजोर लोगों को सहायता करने के लिए कई
प्रयास कर रहा है। “मैं इन सभी प्रयासों का स्वागत करती हूँ”, – उन्होंने
बताया।

केंद्रीय
इलेक्ट्रॉनिक्स व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रवि शंकर प्रसाद के
डिजिटल इंडिया को सफल बनाने में दिए योगदान की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा
कि इसमें श्री प्रसाद की अग्रणी भूमिका रही है। उन्होंने ये भी कहा कि
श्री प्रसाद के प्रयासों ने कॉमनवेल्थ के देशों में एक नई ऊर्जा का संचार
किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *