Breaking News

बेंगलुरु में एक दिन की बारिश ने तोड़ा 133 साल का रिकॉर्ड, उत्तर भारत में कब बरसेंगे बादल?

Spread the love

उत्तर भारत (North India) जहां पिछले कुछ दिनों से भीषण गर्मी (Extreme Heat) और हीटवेव ( Heatwave) से जूझ रहा है, वहीं दक्षिण भारत के कई इलाकों में बारिश हो रही है. बेंगलुरु में दो जून को 111 मिलीमीटर बारिश हुई, जिससे जून में एक दिन में सबसे अधिक बारिश का 133 साल पुराना रिकॉर्ड टूट गया. मौसम विभाग के अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी. हालांकि अब उत्तर भारत के लोगों का सबसे बड़ा सवाल है कि उन्‍हें भीषण गर्मी से कब राहत मिलेगी?. भारत मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) ने 4 जून को भी देश के कई इलाकों में हीटवेव चलने का अनुमान जताया है. साथ ही मौसम विभाग का अनुमान है कि जल्‍द ही उत्तर भारत के लोगों को भीषण गर्मी और हीटवेव से राहत मिलने जा रही है!. 

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी), बेंगलुरु के वैज्ञानिक एन. पुवियारसन ने पुष्टि की कि बेंगलुरु में दो जून को पिछले 133 वर्षों में इस महीने में एक दिन की सबसे अधिक बारिश हुई. उन्होंने यह भी कहा कि अकेले एक जून और दो जून को हुई 140.7 मिलीमीटर वर्षा जून के मासिक औसत से अधिक थी. 

‘बंगालवेदरमेन’ नाम के ‘एक्स’ यूजर ने एक पोस्ट में कहा कि आईएमडी के अनुसार, दो जून को एक दिन में 111 मिमी बारिश दर्ज की गई जो जून महीने के औसत 110.3 मिमी से अधिकहै. उन्होंने कहा कि जून में सबसे अधिक एक दिन की बारिश 16 जून, 1891 को दर्ज की गई थी.

बारिश से बेंगलुरु में जनजीवन प्रभावित, कुछ जिलों में ‘येलो अलर्ट’

भारी बारिश के कारण बेंगलुरु में कई स्थानों पर जनजीवन प्रभावित हुआ. जयनगर के निवासियों ने गिरे हुए पेड़ों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा कीं. रविवार रात ट्रिनिटी मेट्रो स्टेशन के पास मेट्रो ट्रैक पर एक पेड़ गिर गया, जिससे सेवा प्रभावित हुई. गिरे हुए पेड़ों के अलावा सड़कों पर जलभराव से लोगों को असुविधा हुई.

बेंगलुरु के आईएमडी केंद्र प्रमुख सीएस पाटिल ने कहा कि दक्षिण-पश्चिमी मानसून कर्नाटक में आगे बढ़ गया है और पांच जून तक कुछ जिलों के लिए ‘येलो’ अलर्ट जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि तटीय कर्नाटक में दक्षिण कन्नड़, उडुपी और उत्तर कन्नड़, उत्तरी कर्नाटक में बागलकोट, बेलगावी, धारवाड़, गडग, ​​हावेरी, कोप्पल और विजयपुरा तथा दक्षिण कर्नाटक में बल्लारी, बेंगलुरु (ग्रामीण और शहरी), दावणगेरे, चित्रदुर्ग, हासन, मैसूर, तुमकुरु में अगले दो दिन में भारी वर्षा होने की संभावना है. 

इस बीच, उपमुख्यमंत्री डी.के. शिवकुमार ने कहा कि वह जल्द ही वर्षा प्रभावित इलाकों का दौरा कर हालात का जायजा लेंगे. उन्होंने विधान सौध में पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘‘हम विधान परिषद चुनावों के बाद अधिकारियों की बैठक करेंगे और बारिश से संबंधित मुद्दों का समाधान करेंगे.”

Janmat News

Writer & Blogger

Related Posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2024 Created with VnyGuru IT Solution